Talks with Sri Anish

गुरु के शब्दों में अंतर्विरोध क्यूँ ?

हमें अक्सर ओशो के शब्दों में अंतर्विरोध महसूस होता है, ऐसा क्यों है? क्या गुरु हमें उलझाना चाहते हैं या फिर यह हमारी खुद की संकीर्ण बुद्धि के कारण होता है |

“Spirituality is about expanding life’s narrative”

Copyright 2018-2021 Saadho Sangha Foundation. All rights reserved. | Terms and Conditions | Copyrights | Privacy Policy